NEWS

अब तंबाकू वालो को पीएम मोदी की चेतावनी…खुद बंद करे या फिर हम बंद करेंगे

अब तंबाकू वालो को पीएम मोदी की चेतावनी...खुद बंद करे या फिर हम बंद करेंगे
देश भर के सड़को गली मोहल्लों,यहां तक कि घर में भी अंदर तक एक बीमारी घर कर चुकी है,धुएं की बीमारी। वो जानलेवा धुआं जो न जाने कितने ही लोगो को मौत के मुँह में धकेल चूका है। वो धुंआ ना जाने कितने घरो को बर्बाद कर चुका है। अब सवाल उठता है कि आखिर इस जानलेवा धुएं और तंबाकू पर लगाम कौन लगायेगा ?

इसके लिए देश के प्रधान मंत्री मोदी ने खास प्लान तैयार कर लिया है। इंडिया एक्सपो सेंटर एंड मार्ट में विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा आयोजित छह दिवसीय अंतरराष्ट्रिय तंबाकू नियंत्रण सम्मेलन में तंबाकू से सेहत हो होने वाले नुकसान के लिए तंबाकू उद्योग को जिम्मेदार ठहराने पर सहमति बनी।

स्वास्थ्य प्रभावित होने का हर्जाना तंबाकू उद्योग से होगा वसूल

अब तंबाकू वालो को पीएम मोदी की चेतावनी...खुद बंद करे या फिर हम बंद करेंगे
180 से अधिक देशो ने तंबाकू नियंत्रण के लिए महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। बैठक में सभी देशों ने तंबाकू उद्योग से जन स्वास्थ्य को बचाने के लिए तंबाकू उद्योग को क़ानूनी रूप से जिम्मेदार ठहराने के प्रस्ताव किए। बैठक में निर्णय लिया गया कि अधिक से अधिक केस स्टडीज को एक कर सभी देशों से साझा करना चाहिए। तंबाकू से होने वाले नुकसान को कैसे कम किया जाये और कॉप-7 के को लागू कराने की जिम्मेदारी भारत को दी गयी है। इस अवसर पर केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री अनुप्रिया पटेल भी मौजूद रही। सम्मलेन में लोगो के स्वास्थ्य को तरजीह देने के लिए सरकारों की नीतियों की तारीफ की गई।

एक एनजीओ के डायरेक्टर राहुल द्विवेदी ने कहा कि अब तक बहुत कम देशो ने आर्टिकल 19 में निहित शक्तियों का लाभ उठाया है। उदाहरण के लिए कनाडा में ध्रूमपान करने वालो ने 17 साल की कानूनी लड़ाई के बाद तंबाकू उद्योग से 15 बिलियन डॉलर का हर्जाना वसूला।

कुल मिलाकर देखे तो धुएं का छल्ला बनाकर उडाने वालों के लिए ये खबर किसी बुरी खबर से कम नही है।

अब तंबाकू वालो को पीएम मोदी की चेतावनी...खुद बंद करे या फिर हम बंद करेंगे

Source: Jansatta