TECHNO CULTURE

अब भूल जाइयेगा व्हाट्सएप्प,गूगल Allo देगा मेसेजिंग का असली मजा 

अब भूल जाइयेगा Whatsapp,Google Allo देगा मेसेजिंग का असली मजा 

New Delhi : ‘Google Allo’ इंटरनेट की सबसे बड़ी कंपनी गूगल (Google) द्वारा लांच किया गया है।जो की एक वर्चुअल मेसेजिंग एप्प है,जो अपने बेहतरीन फीचर्स के लिए ट्रेंड (Trend) में है। जिसका मुक़ाबला अब दुनिया की सबसे लोकप्रिय एप्प ‘Whtsapp’ से होगा।

गूगल का नया स्मार्ट इंस्टेंट मेसेजिंग एप्प गूगल प्ले स्टोर पर फ्री में डाउनलोड करने के लिए उपलब्ध है। हमने उसे इस्तेमाल किया और हम यहां आपको बता रहे है की क्यों आपको तुरंत Whatsapp या hike जैसी किसी भी एप्प को भूलकर गूगल के अलो (Allo) का इस्तेमाल शुरू कर देना चाहिए और इसके अलावा हम यह भी बताएंगे कि यह दुनिया के सबसे पॉपुलर मेसेजिंग एप्प व्हाट्सएप्प का बाजार कैसे ख़राब कर सकता है।

  सबसे आधुनिक आर्टिफिशल इंटेलिजेंस (AI) सिस्टम

गूगल अलो में ऐसे कई फीचर है जो आपको मेसेजिंग और सर्च इंजिन दोनों का मजा देंगे। लेकिन इस एप्प का सबसे कमाल फीचर है- गूगल असिस्टेंट (Google Assistant ) जो की आर्टिफिशल इंटेलिजेंस पर बना हुआ है। जिसे आप रोबोटिक और स्मार्ट सर्च इंजिन समझ सकते है। यानी आप सर्च इंजिन के बॉट से बाते कर रहे होंगे और यह आपको बताएगा की सबसे बड़ी न्यूज़ क्या है,या फिर सबसे बढ़िया खाना कहाँ मिलता है।

  आटोमैटिक रिस्पांस (Automatic Response )

Allo – गूगल ने इसमें ऑटोमैटिक रिस्पांस का फीचर दिया है,यानी किसी मेसेज का रिप्लाई करने के लिए आपको हमेशा टाइप नही करना होगा। इतना ही नही समय के साथ यह एप्प आपके व्यवहार को भी सीखता है और आप जिस तरह के जवाब देंगे उसके अनुसार आपको विकल्प उपलब्ध करायेगा।

  इमेज रिकॉग्निशन और इमेज टेक्सटिंग

गूगल एनीमेशन के स्तरपर भी अलो में कई कमाल फीचर लेकर आया है। इमेज रिकॉग्निशन सॉफ्टवेयर जिससे यह इंसान और पालतू जानवर में फर्क कर सकेगा और इसके लिए रिप्लाई भी उपलब्ध करायेगा। अलो एप्प में अपने टेक्स्ट और इमोजी का साइज़ बढ़ा या घटा कर भेज सकते है । इसके अलावा आप इसमें तस्वीरो पर लिख या ड्रा भी कर सकते है।

  सर्च इंजिन के तौर पर करे इस्तेमाल

Google Assistant को सर्च इंजिन के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकते है। आपको सिर्फ अपनी सर्च के आगे @google लिखना होगा और एप्प में ही आप परिणाम देख पाएंगे। गूगल असिस्टेंट में ऐसे कई और फीचर है जिनसे आप ट्रेन का टिकट करने से लेकर मूवी हॉल का टिकट भी बुक कर सकते है।

  Advance Security (एडवांस सिक्योरिटी )

Google Allo में गूगल कंपनी ने सिक्योरिटी का भी खासा ध्यान रखा है। इसके लिए अलो में इकॉग्निटो मोड (Icognito mode) है। इसमें दो ऑप्शन है 1.टीएलएस (TLS) 2.एन्ड टू एन्ड एन्क्रिप्शन ( End to End Encryption ) दिए गए है। TLS में आप अपने हिसाब से टाइमर सेट कर सकते है, यानी 5 मिनट का टाइमर लगाया तो दोनों तरफ के मेसेज खुद डिलीट हो जायेंगे । ऐसा फीचर आप टेलीग्राम और स्नैपचैट में भी देख सकते है।

Whtsapp की तरह इस एप्प में डबल टिक फॉर्मूला,ग्रुप मेसेजिंग,मेसेज क्लिक करने पर ऑप्शन,वॉइस मेसेज इंटरफ़ेस भी मौजूद है। लेकिन व्हाट्सएप्प में ऐसे कई फीचर्स नही है,जो गूगल अलो में है इससे तय होता है कि ‘अलो’ व्हाट्सएप्प से  बेहतर और विनर है। इस हालात में व्हाट्सएप्प के बाजार का खेल ख़राब होना तो लाजमी है

अगर पोस्ट पसन्द आया हो तो हमे गूगल अलो जरूर करे ,और Trendyindiahub पर विजिट करते रहे धन्यवाद । ☺

अब भूल जाइयेगा Whatsapp,Google Allo देगा मेसेजिंग का असली मजा