MONEY MACHINE

दुनिया के टॉप बिज़नेस लीडर अपनी टीम को कैसे रखते है प्रेरित ? 

 

बिज़नेस लीडर

दुनिया के सभी टॉप बिज़नेस लीडर कर्मचारियों को अपने कार्य क्षेत्र में शानदार प्रदर्शन के लिए प्रेरित करने हेतु पुरुस्कार,प्रोत्साहन और प्रेरित करने के प्रभावी संयोजन का तरीका अपनाते है। निश्चित रूप से कर्मचारियों का उत्साह बनाये रखना व्यावसायिक दृष्टि से अच्छा कदम है । दुनिया के कुछ अग्रणी बिज़नेस लीडर किस तरह प्रेरणास्रोत के रूप में काम करते है ,आईये जानते है :

बिज़नेस लीडर1. मार्क जुकरबर्ग (Mark Zuckerberg ) : फेसबुक के 32 वर्षीय इस सीईओ के प्रेरित करने के तरीकों के बारे में पूरी दुनिया में काफी कुछ लिखा जा चुका है। ज़ुकरबर्ग तक कोई भी आसानी से पहुँच सकता है, कर्मचारियों के बीच अवरोध दूर करने में यकीन रखते है और महत्वहीन पुरानी रूढ़िवादी बातो को स्थान नही देते । जुकरबर्ग वेतन और सुविधाए मुहैया कराने के मामले में सबसे उदार है और कर्मचारियों का सशक्तिकरण करने में भरोसा रखते है। इनकी सबसे खास बात ये पारदर्शी कांच के केबिन में बैठकर इसीलिए काम करते है ताकि जिसे भी जब भी जरूरत हो आकार मिल सके । ये सभी विशेषताएं मार्क जुकरबर्ग को दुनिया के सबसे पसंदीदा टेक सीईओ में से एक बनाती है।

बिज़नेस लीडर2. रिचर्ड ब्रानसन ( Richard Branson ) : वर्जिन ग्रुप के सीईओ रिचर्ड ब्रानसन एक अंग्रेजी बिज़नेस टाइकून और फिलान्थ्रोपिस्ट है। हमेशा सुर्खियों में रहने वाले वर्जिन ग्रुप के फाउंडर कर्मचारियों को प्रेरित करने में इतने सिद्ध हो गए है जैसे कोई फार्मूला लगा रहे हो । प्राकृतिक प्रकाश वाला डिजाइनर ऑफिस, प्रेरित करने वाले काम , विश्वसनीय परिवारिक व्यवस्था और स्वास्थ्य सुविधा देना इनके तरीको में शामिल है। इसके अलावा विभिन्न उपायो के जरिये कर्मचारियों को कंपनी में निवेश करवाने को भी नही भूलते जिससे की कर्मचारियों को दूगना लाभ प्राप्त हो। अपनी टीम की उपलब्धियों का जश्न ऐसे मनाते है जैसा न कोई मनाता है और न ही मना सकता है।

बिज़नेस लीडर3. विनीत नायर ( Vineet Nayar ) : एचसीएल के पूर्व सीईओ विनीत नायर भारतीय बिज़नेस एग्जेक्युटिव, ऑथर और फिलान्थ्रोपिस्ट भी है। 21 वीं सदी के पहले दशक की शरूआत में एचसीएल कंपनी को अधिक प्रतिस्पर्धी बंनाने के लिए अकल्पनीय काम किया। इन्होंने कंपनी के मैनजेमेंट ढांचे को उलटते हुए कर्मचारियों के हाथ में सत्ता सौंप दी। इस कैम्पेन को ‘पहले कर्मचारी फिर ग्राहक’ के नाम से पहचान मिली। इसके चलते एचसीएल में जबरदस्त विकास हुआ। 2010 के अंत में आर्थिक मंदी का दौर चल रहा था इसके बावजूद कंपनी ने लाभ अर्जित किया। विनीत नायर के इस कदम ने कंपनियों और कर्मचारियों के बीच एक अलग ही रूप लिया जिसका असर आज के  स्टार्टअप बिज़नेस के दौर में देखने को मिल रहा ।

बिज़नेस लीडर4. अजीम प्रेमजी ( Ajim Premji ) : Wipro ग्रुप के सीईओ अजीम प्रेमजी एक इन्वेस्टर और फिलान्थ्रोपिस्ट भी है, उन्होंने अपनी संपत्ति का अधिक से अधिक भाग दान किया हुआ है। इस व्यक्ति ने हाइड्रोजनीकृत खाद्य तेल बनाने वाली 2 Million dollar की कंपनी के बिज़नेस को 16 Billion dollar वाली ऐसी कंपनी बना दिया जिसके 60 देशो में ऑफिस है । इनका मंत्र है – ‘मूल्यों के साथ समझौता नही ‘। विप्रो प्रमुख का मानना है कि यदि साधारण कर्मचारी काम में रुचि ले और काम के लिए प्रेरणादायक माहौल मिले तो वे असाधारण काम करने में सक्षम है । अपने सभी कर्मचारियों को प्रेरित करने के लिए कंपनी ‘डेल कार्नेगी’ के व्यक्तिगत विकास के ट्रेनिंग विशेष प्रोग्रामो को आयोजित करती है,जिससे सभी कर्मचारी एक टीम की तरह काम कर सके और उनकी क्षमता में दुगनी बढ़त हो ।

अच्छे बिज़नेस लीडर कर्मचारियों के खुश रहने का महत्व जानते है और उन्हें प्रेरित रखना अच्छे लीडरशिप की एक मुख्य विशेषता भी है । परिणामस्वरूप सभी ने कर्मचारियों को प्रसन्नचित रखने के अपने अपने तरीके खोज निकाले है ताकि सभी कंपनी की भलाई के लिए मिलकर काम करे । यही वजह है कि दुनिया के कुछ सबसे अच्छे बिज़नेसमैन सबसे अच्छे मेंटर भी है।