MONEY MACHINE

दुनिया में पहली बार पृथ्वी का तीन बार चक्कर लगाने वाले अंतरिक्ष यात्री ग्लेन अब नही रहे।

दुनिया में पहली बार पृथ्वी का तीन बार चक्कर लगाने वाले अंतरिक्ष यात्री ग्लेन अब नही रहे।
Image Source: collectspace.com

दुनिया में पहली पृथ्वी की कक्षा का चक्कर लगाकार पूरी दुनिया में हीरो बने जॉन ग्लेन अपनी उम्र का शतक लगाने से मात्र पांच वर्ष की दूरी पर ही थे कि 95 साल की उम्र में ओहियो प्रांत के कोलंबस शहर में अंतिम संस्कार लेकर दुनिया से विदा हो गए । ओहियो स्टेट यूनिवर्सिटी ने जॉन ग्लेन की मृत्यु की घोषणा करते हुए बताया कि वह हाल ही में भर्ती हुए थे । वर्ष 214 में हृदय के वाल्व का रिप्लेसमेन्ट हुआ था।। तीन बार पृथ्वी की परिक्रमा कर चुके ग्लेन अंतरिक्ष में जाने  वाले  तीसरे और पूरी पृथ्वी का चक्कर लगाने वाले अमेरिका के पहले अंतरिक्ष यात्री थे ।  पूर्व अमरिकी राष्ट्रपति ओबामा और नासा ने ग्लेन के निधन का शोक जताया ।

दुनिया में पहली बार पृथ्वी का तीन बार चक्कर लगाने वाले अंतरिक्ष यात्री ग्लेन अब नही रहे।
Image Source: nasa.gov

सन् 1962 में पृथ्वी से उडान भरने के बाद यात्री को अंतरिक्ष में पृथ्वी के कक्षा में छोड़ दिया गया। इनके अंतरिक्ष मिशन का नाम ‘GODSPEED’ गॉड स्पीड रखा गया था।  इन्होंने  अंतरिक्ष में 5 घण्टे  55 मिनट 23 सेकंड बिताया था।

दुनिया में पहली बार पृथ्वी का तीन बार चक्कर लगाने वाले अंतरिक्ष यात्री ग्लेन अब नही रहे।
24 वर्ष तक राजनीतिक रूप से सक्रीय रहने वाले ग्लेन 1974 में अमेरिकी सीनेट के भीतर ओहियो  का प्रेसिंडेट भी रह चुके है। 1941-1965 तक इन्होंने नासा अंतरिक्ष एजेंसी अपनी सेवाएं प्रदान करने वाले जॉन ग्लेन 8 दिसंबर 2016 में इस दुनिया को अलविदा कह चले।

 इतना महान कार्य कर मानव इतिहास रचने वाले जॉन को कोटि-कोटि श्रद्धांजलि ।