FASHION WAR NEWS

भारत में सुंदर दिखने की चाह में महिलाओं से ज्यादा खर्च करते है पुरुष-फिक्की रिपोर्ट

आधुनिक जीवन शैली में पुरुषो के सौंदर्यबोध और सफल करियर के लिए आकर्षक व्यक्तित्व की बाध्यता के कारण पुरुषो को रंग रूप रखना अहम हो गया है।
भारत में सूंदर दिखने की चाह में महिलाओं से ज्यादा खर्च करते है पुरुष-फिक्की रिपोर्ट
The Telegraph

उद्योग मंडल फिक्की (Federation Of India Chamber Of Commerce Industry) ने यह ताज़ा सर्वे जारी करते हुए कहा कि उसके पिछले सर्वे के मुकाबले 2016-2017 की वृद्धि के अनुमान में सौंदर्य और तंदरुस्ती उद्योग की विकास दर में तेज़ी से बढ़ावा मिल रहा है। जिसका मुख्य कारण पुरुषो में बढ़ा सूंदर और सदा जवान रहने का चलन शामिल है। आम तौर पर महिलाये पुरुषो के मुकाबले अपनी खूबसूरती,फिटनेस और तन्दुरुस्ती पर ज्यादा ध्यान रखते हुए कास्मेटिक और ब्यूटी प्रोडक्ट्स पर ज्यादा पैसे खर्च करती है,पर एक ताज़ा सर्वे के मुताबिक 62 फीसदी से अधिक युवा करते है कॉस्मेटिक उत्पादों की ऑनलाइन खरीदारी (Online Shopping)। नयी युवा पीढ़ी के इस चलन ने पुरुषों को  सुंदरता पर खर्च करने के मामले में महिलाओं से आगे कर दिया है।

 

भारत में सूंदर दिखने की चाह में महिलाओं से ज्यादा खर्च करते है पुरुष-फिक्की रिपोर्ट
सोर्स- टाइम्स ऑफ़ इंडिया (Times of India)

हेयर स्टाइलिस्ट Javed Habib का कहना है, ‘अपने काले बालो और और गोरा रंग पाने की भारतीयो की चाहत जगजाहिर है। गंजेपन को दूर करने के लिए भी पुरुषो की कोशिश अब बहुत बढ़ गयी है।’

– सबसे ज्यादा कहाँ खर्च करते है पुरुष –

लड़को को गोरा रंग हासिल करने के लिए अब बाजार में कई तरह की अलग अलग फेश क्रीम(Face Creem) आ गयी है जो कूछ ही दिनों में गोरा हो जाने का दावा कर रही है। इनमे से कुछ बड़े विदेशी ब्रांड भी है।

  • साबुन नही अब फेश वाश ।
  • शेविंग क्रीम, खूबसूरती और खुशबु के लिए BODY Deodorant,स्पा(Spa),फेशियल ।
  • हेयर रिमूवर,कोल्ड क्रीम, बॉडी लोशन,हेयर सीरम,वैक्सीन। अपने शरीर को आकर्षक और सुडोल बनाने के लिए सर्जरी,जिम ,आदि तरीको से पुरुष खुद का मेकओवर करते है।
  • बालो में स्पाइक्स या वैट लुक देने के लिए जेल का इस्तेमाल करते है।

सदा जवान रहने और सुंदर दिखने की चाह ने भारत में ही नही पूरी दुनिया में सौंदर्य और तंदरुस्ती से जुड़े एक बड़े उद्योग को जन्म दिया है। स्वस्थ शरीर के प्रति बढ़ती जागरूकता बदलती जीवन शैली,खर्च करने की क्षमता मे बढ़ोतरी, इलेक्ट्रॉनिक और प्रिंट मीडिया के असरदार विज्ञापनों,शॉपिंग मॉल्स का विस्तार और उत्पादों के चयन के लिए ढेरो विकल्पों ने भारत में रेडीमेड कपड़ो और मोबाइल फ़ोन्स की तरह पुरुष सौंदर्य प्रसाधनों का बाजार बढ़ गया है।

भारत में सूंदर दिखने की चाह में महिलाओं से ज्यादा खर्च करते है पुरुष-फिक्की रिपोर्ट
विज्ञापन तस्वीर –

सदा जवानी की इस चाह ने भारत ही नही पूरी दुनिया में सौंदर्य उद्योग से जुड़े बाजार को लाखों करोडो का बिज़नेस बढ़ दिया है। दुनिया का सौंदर्य एवं प्रसाधन उद्योग अभी करीब 1.50 हजार करोड़ रूपये का है। इसमें सबसे बड़ा हिस्सा चीन,ब्राज़ील,अमेरिका,का है। इसके मुकाबले अगर भारत के बाजार की को देखे तो यह अभी करीब 50 हजार करोड़ हजार करोड़ रूपये का ही है। पर इसकी विकास दर दुनिया के मुकाबले ज्यादा है। दुनिया में सौंदर्य उद्योग की विकास दर सालाना 15% है,जबकि भारत में यह करीब 19% है।

इसी तरह अगर भारत के पुरुष अपनी सुंदरता व तंदुरस्ती के लिए करोडो रूपये खर्च करते रहे तो इस व्यापार से लाखों बेरोजगारों को रोजगार जरूर मिलेगा।