BLOG TECHNO CULTURE

अपने सपनों को पूरा करने और भाग्य का निर्माण करने की कथा By Robin Sharma,in Hindi

The Monk Who Sold His Ferrari पुस्तक का हिंदी अनुवाद – ‘ सन्यासी जिसने अपनी संम्पत्ति बेच दी ‘

 

अपने सपनों को पूरा करने और भाग्य का निर्माण करने की कथा By Robin Sharma,in Hindi

अपने सपनों को पूरा करने और भाग्य का निर्माण करने की यह प्रेरणा दायक कहानी हमे उत्साह,सन्तुलन, सम्रद्धि और आनन्द से जीने को प्रेरित करती है।  ‘सन्यासी जिसने अपनी संपत्ति बेच दी’  एक आश्चर्यजनक नीतिकथा है। यह पुस्तक  ‘द मांक हू सोल्ड हीज़ फ़रारी’  का हिंदी अनुवाद है, जो हमें जूलियन मेंटले के जीवन से अवगत कराती है।  मेंटले जो वकालत के  पेशे से जुड़े हुए थे और अपनी असन्तुलित जीवन-शैली से पूरी तरह हताश थे।  वह अपने पेशे,धन-दौलत सभी को त्यागकर हिमालय की चोटियों में गये और वहां सिवाना के सन्तों से उन्हें जो ज्ञान प्राप्त हुआ उसी का निचोड़ यह पुस्तक है।   जिसके बारे में मैं आपको कुछ विचार साझा कर रहा हूँ , इस पुस्तक को पढ़ने और पसंद करने के बाद मुझे लगा कि यदि मैं भी इस पुस्तक के कुछ नियमों का पालन कर सकूँ ,  इसके बारे में अधिक से अधिक लोगो को इसके फायदे के बारे में बता सकूँ तो कितना बेहतर होगा । क्योंकि किसी महान व्यक्ति ने कहा कि

“जिंदगी मेरे लिए मात्र एक मोमबत्ती नही है। यह एक वैभवशाली टॉर्च है, जिसे मैंने कुछ समय के लिए थाम रखा है, और मैं इसे नई पीढ़ी के सुपुर्द करने से पहले जितना अधिक सम्भव हो इससे चारों और प्रकाश फैलाना चाहता हूं । “                                                                                                          – जॉर्ज बर्नार्ड शाह

 

तो आइए अब प्रकाश डालते है इस महान पुस्तक की कुछ बेहद ही खास बातों पर – 

वकालत के व्यवसाय में बड़ी ख्याति के साथ जूलियन मेंटले वह व्यक्ति है जिसने अपनी हर वह चीज़ प्रप्त कर ली थी जिसकी अधिकांश लोग कामना करते है। वकालत के व्यवसाय में अत्यधिक सम्मान के साथ सात अंको में आमदनी, मानी हुई हस्तियों के पड़ोस में शानदार बंगला, व्यक्तिगत जेट विमान, द्वीप पर गर्मियों के लिए घर और एक शानदार लाल चमकदार फ़रारी (कार),। फिर भी मेंटले को बहुत ही असन्तुलित जिंदगी जीते हुए अत्यधिक सम्मान, प्रसिद्धि तथा अधिक धन प्राप्त करने की भूख खाये जा रही थी।

लेकिन जब उसने अपनी सब भौतिक सम्पति बेच दी और भारत की यात्रा की तो उसका जीवन चमत्कारिक रूप से बदल गया। उसने यह निश्चय कर लिया था कि इससे पहले की देर हो जाये वह यह जानकर रहेगा कि वह वास्तव में कौन है और उसके जीवन का क्या उद्देश्य है?

अपनी यात्रा के प्रारम्भिक पड़ावों के दौरान जूलियन ने भारत में अनेक प्रसिद्ध तथा अत्यन्त सम्मानित गुरुओं को ढूंढ निकाला और खुले ह्रदय से उस अनमोल ज्ञान का स्वागत किया। और जो भी अनमोल  ज्ञान रत्न जूलियन ने अपने साथी मित्र के साथ साझा किए है वही कुछ रत्न मैं आपके साथ साझा कर रहा हूं। इस पुस्तक के लेख़क रोबिन शर्मा जी को इस अनमोल ज्ञान देने वाली कहानी के लिए मैं ख़ुशी से आभार प्रकट करता हूँ। आगे की पूरी कहानी पढ़ने के लिए यह पुस्तक  ख़रीदे।

 

अपने सपनों को पूरा करने और भाग्य का निर्माण करने की कथा By Robin Sharma,in Hindi

महत्वपूर्ण नियम-

●  जरा इसके बारे में सोचो दुनिया में अधिकांश व्यक्तियों ने सबसे अधिक उन्नति अपने सर्वाधिक चुनौतीपूर्ण अनुभवों से ही प्राप्त की है । यदि तुम्हें किसी काम को करने से ऐसा परिणाम मिलता है, जिसकी तुम्हें आशा नही थी और तुम निराशा का अनुभव करते हो, तो याद रखो कि प्रकृति का यह निश्चित नियम है कि यदि एक दरवाज़ा बंद होता है तो दूसरा खुल जाता है।

.
●   अपने मस्तिष्क को ऐसी स्थिति में ले आओ कि वह प्रत्येक घटना को सकारात्मक रूप में ले जो तुम्हें शक्ति प्रदान करे, तुम्हारी चिन्ताएं हमेशा के लिए मिट जाएंगी ।

.
●  जीवन में कोई त्रुटि नही होती- सिर्फ शिक्षा मिलती है।

● प्रसन्न्ता का रहस्य साधारण है : पता लगाओ कि तुम वास्तव में क्या करना पसंद करते हो और फिर अपनी सारी उर्जा इसे करने में लगा दो । एक बार तुम ऐसा करोगे ,तो तुम्हारे जीवन में धन- सम्मपत्ति का बाहुल्य होगा और तुम्हारी सभी इच्छाएँ आसानी से और शान से पूरी हो जाएंगी ।

.

‘ द मांक हू सोल्ड हिज़ फ़रारी ‘ की प्रशंसा में कई गयी बातें –

” एक मनमोहक कहानी ,जो आनन्द के साथ शिक्षा भी प्रदान करती है। ”                           – पॉलो कोयल्हो, द एलकेमिस्ट के लेखक

” रोबिन का संदेश कितना शक्तिशाली है…..उनके शब्द जादुई है।”                                    –  द हिन्दू

 


रॉबिन शर्मा आज दुनिया में सबसे ज्यादा पढ़े जाने वाले लेखकों में से एक है। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सबसे अधिक बिकने वाली इनकी 11 किताबों की दासियों लाख प्रतियां 60 से ज्यादा देशो और 70 भाषायों में बिक चुकी है।

प्रेरणा का सतत प्रवाह प्राप्त करने के लिए आप फेसबुक पर रॉबिन शर्मा का अनुसरण कर सकते है ।  Click Here.