BLOG

15 ऐसे फायदे जिन्हें जानकर यात्रा करने का मजा दोगुना हो जायेगा

 

15 ऐसे फायदे जिन्हें जानकर यात्रा करने का मजा दोगुना हो जायेगा
www.trendyindiahub.com

हम सभी को यात्रा करना पसंद होता है । जब भी हम अपनी बोझिल जिन्दगी से परेशान होने लगते हैं घूमने निकल पड़ते हैं, क्यूंकि घूमने फिरने से ना सिर्फ मूड तरोताजा हो जाता है,बल्कि यह आपको कईतरह की बिमारियों से भी बचाता है। जी हाँ इसलिए आज हम आपको बताने जा रहे हैं यात्रा करने के 15 ऐसे फायदे जिनको जानकर आपका यात्रा करने का मजा दुगना हो जायेगा ।

15 ऐसे फायदे जिन्हें जानकर यात्रा करने का मजा दोगुना हो जायेगा
साभार:quit.com
15 ऐसे फायदे जिन्हें जानकर यात्रा करने का मजा दोगुना हो जायेगा
1 – हाल ही में हुए फ्रैमिंघम हार्ट स्टडी के एक अध्ययन के अनुसार जो लोग अधिक यात्रा करते हैं, उनमें हार्ट अटैक या दिल से जुड़ी अन्य बीमारियाँ होने की सम्भावना कम रहती है।
2 – यूनिवर्सिटी आफ़ पिट्सबर्ग के माइंड बाडी सेंटर द्वारा किये गये एक अध्ययन में बताया गया कि हरी-भरी वादियों में घुमने जाने से मानसिक तनाव दूर होता है।
3 – माइंड बाडी सेंटर में हुए एक अन्य अध्ययन की माने, तो हिल स्टेशन जाने से रक्त दबाव एवं मोटापा कम होता है और हड्डियाँ भी मजबूत होती हैं।
4 -घूमने फिरने से हम अलग-अलग वातावरण के सम्पर्क में आते हैं,जिससे हमारे शरीर में मजबूत एंटीबाडीज का निर्माण होता है। इससे इम्युन सिस्टम बूस्ट होता है।
5 – एक अन्य अध्ययन के अनुसार ,35 से 50 वर्ष की आयु के बीच के लोगों को साल में कमसे से कम दो बार बाहर घूमने जाना चाहिए । इससे शारीरिक एवं मानसिक रूप से लाभ मिलता हैं।
6 – यात्रा आफिस के तनाव और भागदौड़ भरी जिन्दगी से बाहर निकलने का मौका देती है। इससे हम सुकून भरी जिन्दगी में कुछ पल रिलैक्स होकर व्यतीत करते हैं।
15 ऐसे फायदे जिन्हें जानकर यात्रा करने का मजा दोगुना हो जायेगा
साभार:Travlelife
7 – घूमने फिरने से सोचने का नजरिया बदलता है। नई-नई जगहों की सामाजिक आदतें,परम्पराओं को करीब से देखते हैं। अच्छी आदतें सीखते हैं तथा ज्ञान का विस्तार होता है।
8 – नये लोगों से मिलने,नई परिस्थितियों के साथ सामंजस्य स्थापित करने से काग्नीटिव फ्लेक्सिबिलिटी बढती है। इससे दिमाग तेज होता है।
9 -घूमने से आप फिट रह सकते हैं।नई और रोमांचक चीजों को करने के लिये प्रोत्साहित होते हैं।मांसपेशियां मजबूत होती हैं,आप उर्जावान महसूस करते हैं।
10 – वैज्ञानिक द्रष्टि से ये सिद्ध हुआ है कि यात्रा करने से ख़ुशी महसूस होती है। कई दिन तक आप कम चिंतित और बेहतर मूड़की स्थिति में रह पते हैं।
11 -जनरल आफ़ पर्सनैलिटी एंड सोशल साइकोलाजी के अनुसार,जो यात्रा करते हैं या विदेश में पढाई करते हैं,वो बहिर्मुखी और भावनात्मक रूप से मजबूत होते हैं।
12 -यदि जिन्दगी के प्रति आपकी सूच निराशावादी हो चुकी है तो यात्रा करने से आपकी सोच बदलती है। आप देश दुनिया को सकारात्मक नजरिये से देख सकते हैं।
13 – एक अध्य्यन के अनुसार, यात्रा का रचनात्मकता, सांस्क्रतिक जागरूकता और व्यतिगत विकास से घर जुड़ाव होता है।
14 – मष्तिष्क में मौजूद न्यूरल पाथवेज वातावरण और नई जगहों को देखने से प्रभावित होता हैं। इससे दिमाग की रचनात्मक छमता और सक्रियता बढती है।
15 – प्रकति, बर्फीली वादियों और धार्मिक स्थलों जैसे मन्दिर आदि की आबोहवा में हीलिंग प्रापर्टीज होती हैं,जिससे दर्द दूर होने के साथ-साथ उम्र भी बढती है ।